ने जेल से रिहा किए 20 भारतीय मछुआरे बाघा

20 भारतीय मछुआरे पाकिस्तान ने जेल से रिहा किए, वतन वापसी करेंगे बाघा बॉर्डर से

पाकिस्तान (Pakistan) की जेल से 20 भारतीय मछुआरे (Indian fishermen) को रिहा किया गया है, जिन्हें पाकिस्तान आज बाघा बॉर्डर पर भारत के हवाले करेगा. रिहा किए गए सभी मछुआरों को पाकिस्तान की लांधी जेल से रखा गया था, जहां से अब इन्हें छोड़ दिया गया है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी. अधिकारी ने शनिवार को बताया था रिहा किए गए सभी मछुआरों को रविवार को बाघा बॉर्डर भेजा जाएगा और यहीं उन्हें भारतीय प्रशासन के हवाले किया जाएगा.

भारत लौटने वाले यह सभी 20 भारतीय मछुआरे (Indian fishermen) गुजरात के रहने वाले हैं. यह पाकिस्तान की जेल में बंद उन 350 भारतीयों में से हैं जिन्होंने अपनी जेल की अवधि पूरी कर ली है. पाकिस्तान की ओर से इन सभी 350 मछुआरों को अलग-अलग बैच में रिहा कर भारत भेजा जाएगा. रविवार को 20 भारतीय मछुआरे भारत लौट रहे हैं. एक नॉन प्रॉफिट संस्था इधी ट्रस्ट फाउंडेशन ने इन सभी 20 भारतीय मछुआरे 20 भारतीय मछुआरे को बाघा बॉर्डर तक पहुंचाने का इंतजाम किया है. संस्था के एक सदस्य फैजल इधी ने बताया कि ‘मछुआरों को बस के जरिए बाघा बॉर्डर भेजा जाएगा. इन्हें तोहफे और कुछ कैश भी दिया जाएगा.’ बता दें कि यह सभी जिस लांधी जेल में बंद थे, वह करांची में है.

इन सभी को पाकिस्तान की समुद्री सुरक्षा एजेंसी (PMSA) ने कच्छ तट से दूर अरब सागर की अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा रेखा (आईएमबीएल) को कथित रूप से पार करके पाकिस्तान के क्षेत्र में घुसने के आरोप में गिरफ्तार किया था. पाकिस्तान की जेल में ऐसे करीब 600 मछुआरे कैद हैं. इधी ट्रस्ट फाउंडेशन ने बताया है कि पाकिस्तान की जेल में अभी करीब 600 भारतीय मछुआरे कैद हैं. फैजल का दावा है कि लांध और मालिर जेल में दर्जनों गरीब भारतीय मछुआरे बंद हैं. बीते साल भी पाकिस्तान की सरकार ने कई भारतीय मछुआरों को रिहा किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *