क्राइम ब्रांच व भेलूपुर पुलिस टीम द्वारा 05 शातिर अपराधी गिरफ्तार

क्राइम ब्रांच व भेलूपुर पुलिस टीम द्वारा 05 शातिर अपराधी गिरफ्तार

  • कब्जे से चोरी के 4.106 किग्रा चांदी के ज्वैलर्स बर्तन व आभूषण बिक्री के 1,50,000/- रुपये बरामद।

महेश पाण्डेय ब्यूरो चीफ

वाराणसी: प्रभारी निरीक्षक भेलूपुर अमित कुमार मिश्र मय हमराह व क्राइम ब्रांच प्रभारी निरीक्षक अश्वनी पाण्डेय मय हमराह के साथ बड़ी सफलता उस समय मिली जब मुखबिर द्वारा पुलिस टीम को सूचना प्राप्त हुआ कि मुकदमा संख्या 522/19 धारा 457/380 भादवि से सम्बन्धी अभियुक्तगण मण्डुवाडीह रेलवे स्टेशन के पास है, उक्त सूचना पर विश्वास कर थाना भेलूपुर पुलिस व क्राइम ब्रांच टीम उक्त स्थान पर पहुंचकर, 03 व्यक्तियों को पकड़ा गया। पकड़े गये व्यक्ति से नाम पता पूछा गया तो पहले ने अपना नाम जयगुप्ता उर्फ जलेबी पुत्र रामनारायण गुप्ता दूसरे ने अपना नाम रवि कुमार चौरसिया पुत्र सत्यनारायण चौरसिया व तीसरे ने अपना नाम कन्हैया साहनी उर्फ सल्ला मल्ला पुत्र लल्लन साहनी बताया।

पकड़े गये व्यक्ति के निशानदेही पर दो अन्य व्यक्ति जो चोरी का माल खरीदे थे को पकड़ा गया जिनसे नाम पता पूछा गया तो उसने अपना नाम पवन सेठ व श्याम कुमार सेठ दोनो वाराणसी के निवासी हैं। अभियुक्तगणों के कब्जे से चोरी के माल 4.106 किग्रा के करीब चांदी के ज्वैलर्स बर्तन व आभूषण व चोरी के बिक्री के 1,50,000/- रूपये बरामद हुए। उक्त के संबंध में थाना भेलूपुर पुलिस द्वारा सभी पाचों अभियुक्त को गिरफ्तार कर अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है।

गिरफ्तार अभियुक्त गण से पूछताछ में बताया कि घटना से दो दिन पहले हम लोगो ने दुकान की रेकी किये थे घटना के दिन हम तीनो के अलावा दशाश्वमेध घाट पर रवि बिन्द पुत्र सुरज बिन्द नि0 माधोपुर थाना सिगरा वाराणसी व बबलू राजभर पुत्र घनी राम नि0 हिरामनपुर थाना सारनाथ जनपद वाराणसी इकट्ठा हुए प्लानिग के मुताबिक दशाश्वमेघ घाट से बबलू राजभर के टेम्पो में बैठकर हम लोग रथयात्रा आये, लोहे का सरिया, नकब लगाकर दिवाल में छेदकर अन्दर रवि बिन्द, कन्हैया घुसे, जय गुप्ता, रवि चौरसिया नकब की निगरानी दिवाल के पास खडे रहकर करते रहे ।

बबलू राजभर टेम्पो में बैठकर निगरानी करता रहा हम लोग 20 मिनट के अन्दर ही पूरे दुकान का सामान समेट कर रात्रि करीब 12 बजे के लगभग टेम्पो मे लादकर भाग लिये । हम पाचों पडाव पर आकर रुके और चोरी किये गये माल का आपस में बटवारा किये व अपने घर चले गये ।

पूछताछ में जय गुप्ता ने बताया कि दुसरे दिन मै तथा रवि चौरसिया अपने हिस्से का चोरी का माल लेकर विजय कुमार उर्फ विरजू सेठ पुत्र जयमंगल सेठ, निवासी घासी टोला चौखम्भा थाना कोतवाली वाराणसी व पवन सेठ पुत्र जय मंगल सेठ लक्ष्मी ज्वैलर्स की दुकान पाण्डेयपुर वाराणसी की दुकान पर चोरी का माल बेचे जिसका हम लोगो को माल का आधी कीमत दिया था । हम लोगो ने दस-दस हजार रुपये मिले थे जो हम लोगो ने आपस में बाट लिये जो अभी तक खर्च करते आये है शेष पैसा उसी घटना से सम्बन्धित है ।

कन्हैया साहनी द्वारा पूछताछ में बताया कि मैने अपने हिस्से का चाँदी के ज्वैलर्स व चार चांदी के सिक्के, एक सोने का सिक्का, चाँदी का पायल बिछिया हमने सोनार श्याम कुमार सेठ पुत्र रामलखन सेठ, को बेचा था जिसका उन्होने मुझे डेढ लाख रुपये चोरी के माल का दिये थे जिसको हमने खर्च कर दिया है शेष पैसा जो बचा है वह खण्डेलवाल ज्वैलर्स की दुकान के चोरी के माल का है ।

पूछताछ पर जय गुप्ता ने बताया कि मै थाना लक्सा से 25 आर्मस एक्ट में जेल गया था जेल में ही सोनार विजय कुमार पूर्व में चोरी का माल खरीदने मे बन्द हुए थे वही से उनसे परिचय हुआ था इसिलिए हम लोग उन्हे माल चोरी का बेचते है।

अभियुक्तगण को गिरफ्तारी व बरामदगी करने वाली टीम में क्राइम ब्रांच प्रभारी निरीक्षक अश्वनी पाण्डेय, राजीव कुमार सिंह निरीक्षक अपराध, उ0नि0 बृजेश कुमार मिश्रा, हे0कां0 सुरेन्द्र मौर्या, हे0कां0 पुनदेव सिंह,व थाना भेलूपुर प्रभारी निरीक्षक अमित कुमार मिश्र, उ0नि0 अनुज कुमार तिवारी, चौकी प्रभारी महमूरगंज, उ0नि0 प्रकाश सिंह, चौकी प्रभारी दुर्गाकुण्ड, उ0नि0 दीपक कुमार चौकी प्रभारी अस्सी, उ0नि0 वेद प्रकाश सिंह यादव, उ0नि0 जगदीश प्रसाद मय हमराह शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *